More

    नशे के सेवन से स्वास्थ्य पर पड़ता है दुष्प्रभाव: डीएम

    सासाराम सदर अस्पताल में स्वास्थ्यकर्मियों के अलावा पारा मेडिकल कॉलेज की छत्राओं ने ली शपथ

    रोहतास पत्रिका/सासाराम:

    नशा सेवन से शारीरिक एवं मानसिक दोनों तरह की हानियां होती है। जो नशा करता है उसको तो समस्याएं होती ही है उसके साथ साथ उसके परिवार को भी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। उक्त बातें नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर रोहतास जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने स्थानीय फजलगंज स्थित स्टेडियम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा। जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने कहा, नशा से कई तरह की बीमारियां भी होती है जिसमें कैंसर के अलावा लिवर एवं किडनी संबंधित बीमारी के साथ-साथ अन्य बीमारियां भी शामिल है। नशा से मानसिक एवं शारीरिक कष्ट भेजने पड़ते हैं।

    उन्होंने कहा, हमें समाज को नशा मुक्त करने के लिए पहले लोगों को जागरूक करना होगा तभी हमारा समाज नशा मुक्त होगा आज युवा पीढ़ी भी कई तरह के नशा के शिकार देखे जा रहे हैं जो समाज के लिए घातक है। हमें युवाओं के साथ साथ वयस्कों को को भी सिगरेट, तंबाकू एवं शराब सेवन से दूरी बनाए रखने के लिए जागरूक करना पड़ेगा तभी हमारा समाज नशा मुक्त होगा। उन्होंने कहा, जागरूकता अभियान को जितना अधिक फैलाया जाएगा उतना ही नशा मुक्ति अभियान को सफलता मिलेगी। इसके पूर्व जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार के नेतृत्व में सासाराम रेलवे स्टेशन परिसर से एक जागरूकता रैली निकाली गई जो शहर के मुख्य मार्गो से होते हुए फजलगंज स्थित न्यू स्टेडियम के मैदान में सभा के रूप में तब्दील हो गई। जहां जिलाधिकारी ने लोगों को सम्बोधित करते हुए नशा ना करने के लिए शपथ दिलवाई।

    नशा मुक्ति दिवस पर दिलाई गई शपथ

    नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर जिला समाहरणालय स्थित डीआरडीए सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिले के सभी विभागों के कर्मियों को शपथ दिलाई गई कि “मैं आजीवन शराब का सेवन नहीं करूंगा और ना ही दैनिक जीवन में भी शराब से संबंधित गतिविधियों में शामिल होऊंगा। साथ ही साथ शराबबंदी कानून को लागू करने के लिए जो भी विधि -सम्मत कार्रवाई अपेक्षित है उसे लागू करूंगा”।

    Sasaram
    जागरूकता रैली में भाग लेते रोहतास जिलाधिकारी धर्मेन्द्र कुमार एवं अन्य पदाधिकारी

    इसके अलावा जिला मुख्यालय स्थित सासाराम सदर अस्पताल में सिविल सर्जन की अध्यक्षता में विभिन्न विभागों एवं पारा मेडिकल की छत्राओं ने भी नशा एवं शराब का सेवन न करने के लिए शपथ ग्रहण का आयोजन किया। जिसमें सभी स्वास्थ्य कर्मियों के साथ साथ पारा मेडिकल कॉलेज की छात्राएं शामिल थी। इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ सुधीर कुमार ने लोगों से अपील किया, नशा कोई भी हो हमेशा घातक होता है। उन्होंने कहा, गुटखा, तंबाकू के साथ-साथ सिगरेट एवं शराब हमारे शरीर के लिए हानिकारक है और इसे जल्द से जल्द त्याग देना चाहिए। उन्होंने लोगों से अपील किया कि नशा मुक्ति को लेकर अधिक से अधिक जागरूक होकर अन्य लोगों को भी जागरूक करें।

    सभी ने लिया बढ़-चढ़ कर हिस्सा

    नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर प्रभात फेरी भी निकाली गई जिसमें प्रशासन के अधिकारियों के साथ-साथ पुलिस प्रशासन, शिक्षा विभाग, जिला स्वास्थ्य विभाग, पारा मेडिकल कॉलेज की छात्राएं एवं विभिन्न स्कूलों के छात्र छात्राओं के साथ साथ मीडियाकर्मी तथा आम लोगों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और नशा उन्मूलन को बढ़ावा देने के लिए लोगों तक संदेश फैलाया। वही जिले के विभिन्न प्रखण्डों में भी नशा मुक्ति को लेकर प्रभात फेरी निकाली गई और लोगों को जागरूक किया गया।

    Latest articles

    Related articles