Vaccination in Rohtas
  • राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक ने सिविल सर्जन व जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को भेजा पत्र।

Rohtas Patrika/Sasaram:

कोरोना वायरस व उसके संक्रमण के खिलाफ जिले में चल रहे टीकाकरण अभियान को धीरे-धीरे और भी सरल बनाया जा रहा है। जिससे लोगों को टीका लेने में परेशानियों का सामना न करना पड़े और टीकाकरण के लक्ष्य को जल्द से जल्द पूरा किया जा सके। इस क्रम में राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने सिविल सर्जन और जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को पत्र भेजा है, जिसमें दिव्यांग, बुजुर्ग एवं गंभीर रोगियों के लिए कोरोना टीकाकरण की विशेष व्यवस्था की बात कही गयी है।

नए निर्देश के अनुसार जिले के दिव्यांग, बुजुर्ग एवं गंभीर रोग से ग्रसित (चलने-फिरने में असमर्थ) व्यक्तियों को अब टीकाकरण के लिये स्थायी या अस्थायी शिविरों का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। अब उनको जिलास्तर पर चलाये जा रहे चलन्त टीका एक्सप्रेस के माध्यम से कोविड-19 के टीका से आच्छादित किया जायेगा। पत्र में बताया गया है कि 18 वर्ष या इससे अधिक आयुवर्ग के सभी लाभार्थियों को कोविड-19 टीकाकरण से शत प्रतिशत आच्छादित किया जाना है।

उक्त आयुवर्ग में वैसे लाभार्थी भी सम्मिलित है, जो दिव्यांग, बुजुर्ग एवं गंभीर रोग से ग्रसित एवं चलने फिरने में असमर्थ हैं। ऐसे लाभुकों को टीकाकृत करने के लिये जिला स्तर पर कोविड 19 संक्रमण के दौरान कार्यरत कॉल सेंटर से सूचना एकत्रित की जायेगी।

टीका लेने के लिये हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर सकते हैं वर्णित लाभार्थी

कार्यपालक निदेशक द्वारा जारी पत्र के अनुसार उपरोक्त वर्णित लाभार्थी टीका लेने के लिये जिले के हेल्प लाइन पर कॉल कर सकते हैं। लाभार्थियों द्वारा कॉल करने पर संबंधित व्यक्ति का नाम, पता, दूरभाष संख्या आदि अंकित कर इसकी समीक्षा कराते हुए उनकी सूचना जिला प्रतिरक्षण कार्यालय को अवगत कराया जायेगा। जिसके बाद प्राप्त सूचना के आधार पर उनकी समीक्षा की जायेगी। तत्पश्चात संबंधित लाभुक के घर के समीप चलंत टीका एक्सप्रेस को भेज कर उन्हें टीका देकर आच्छादित किया जायेगा।

टीका लेने के लिये आगे आएं लोग

जारी पत्र के अनुसार प्रत्येक टीका एक्सप्रेस में प्रति टीम एक एनाफ्लेक्सिस कीट उपलब्ध कराया जायेगा। ताकि वैक्सीन का अपव्यय कम से कम हो। उन्होंने कहा, ‘कोरोना वायरस के संभावित तीसरी लहर को देखते हुये राज्य सरकार जल्द से जल्द टीकाकृत करने का लक्ष्य रखा है। इस क्रम में राज्य स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने भी जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को अभियान को व्यापक और तेज करने का निर्देश दिया है।

साथ ही, उन्होंने जिलेवासियों से भी टीकाकरण के महाअभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेकर सफल बनाने की अपील की है। ऐसे में निर्धारित उम्र के लोगों को बड़ी में टीका लेने के लिये आगे आना होगा। तभी यह महाअभियान पूरी तरह से सफल हो सकेगा।