रोहतास पत्रिका/नई दिल्ली:

अयोध्या के धन्नीपुर में मस्जिद के लिए आवंटित जमीन पर विवाद शुरू हो गया है। मस्जिद के लिए आवंटित जमीन में से पांच एकड़ हिस्से पर दिल्ली की दो महिलाओं ने अपना दावा किया है। दिल्ली की दो महिलाओं ने जमीन पर अपना हक जताते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ में याचिका दाखिल की है। रानी कपूर और रमा रानी नाम की दो महिलाओं ने सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को आवंटित जमीन को लेकर कोर्ट में याचिका दाखिल की है। इस मामले में 8 फरवरी को सुनवाई हो सकती है।

26 जनवरी को हुआ था सांकेतिक शिलान्यास

आपको बतां दे कि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ने मस्जिद की जमीन पर सांकेतिक शिलान्यास किया था। मस्जिद निर्माण के लिए मुस्लिम पक्ष ने इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट का गठन किया है, जिसमें अभी 9 सदस्य शामिल हैं।

मस्जिद के जमीन पर अस्पताल और म्यूजियम का भी होगा निर्माण 

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मस्जिद के लिए धन्नीपुर में मुस्लिम पक्ष को मिली जमीन में इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन एक भव्य मस्जिद का निर्माण करेगा। इसके अलावा वहां पर 200 बेड का सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का निर्माण भी किया जाएगा। साथ ही एक बड़ा म्यूजियम भी बनेगा और एक लाइब्रेरी भी स्थापित की जाएगी। यही नहीं एक इस्लामिक रिसर्च सेंटर भी बनाया जाएगा। इसके अलावा एक ऐसा कम्युनिटी किचन भी बनाया जाएगा जिसके जरिए एक हजार लोगों को रोज फ्री खाना उपलब्ध कराया जा सके।